उद्देश्य

  • आनलाईन चैनल, वेबसाईट फेसबुक व अन्य सोशल मीडिया से सबंध समाचार पे्रशित करने वाले माध्यमों को संगठित करना।
  • उनके हितों की रक्षा हेतु प्रयास करना।
  • डीएवीपी तथा प्रदेश सरकारों के द्वारा जारी सरकारी विज्ञापन आॅनलाईन चैनल व वेबसाईटों के दिलाने की कोशिश करना।
  • आनलाईन चैनल व वेबसाईटो के संचालकों तथा पत्रकारो को केन्द्र व प्रदेश सरकारों के द्वारा संचालित पीआईबी और सूचना विभाग से पत्रकार मान्यता प्राप्त करने हेतु जानकारी देना।
  • आनलाईन चैनल वेबसाईटों आदि से जुड़े संचालकों की समस्या के समाधान हेतु गोष्ठी व सम्मेलन समय समय पर आयोजित करना।
  • सरकार द्वारा आनलाईन चैनलों वेबसाईट के लिए बनाये जाने वाले नियमों से सदस्यों को अवगत कराना तथा इनका उत्पीड़न करने वाले नियमों का शांति पूर्वक विरोध करना तथा उन्हे समाप्त कराने के लिए पत्राचार तथा सबंधितों से विचार करना।
  • अपने सदस्यों आनलाईन चैनलों के संचालकों के हित में अगर वो या उनकी बात गलत नही है तो उनकी मद्द करना।
  • केन्द्र व प्रदेश सरकारों के मंत्रियों बड़े नेताओं प्रमुख अधिकारियों व प्रबुद्ध नागरिकों तथा बुद्धि जिवियों से वार्तालाप कर अपने सदस्यों के प्रति उनका समर्थन जुटना।
  • सोशल मीडिया एसोसिएशन एसएमए का हर जिले में गठन करना।
  • देश विदेश में संचालित आनलाईन चैनल व वेबसाईटों तथा अन्य सोशल मीडिया से जुडे़ समाचार प्रसारित करने वाले व्यक्तियों की संस्थाओं से सम्पर्क कर एक दूसरे की मद्द करना तथा उन्हे अपने यहां सम्मेलनों में बुलाना और निमंत्रण मिले तो प्रतिनिधियों को विदेश में आयोजित सम्मेलनों में भेजना।
  • आवश्यकता पड़ने पर अगर एसएमए की मद्द करने के लिए गठित समिति को उचित लगे तो सदस्यों द्वारा किये गये आवेदनों पर विचार कर मद्द करना।